बेंगलुरु में किसान को मेट्रो में जाने से रोका: अधिकारियों ने कपड़े गंदे होना कारण बताया; दूसरे पैसेंजर ने पूछा- ड्रेस कोड है क्या?

बेंगलुरु29 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
सोशल मीडिया पर बेगलुरु मेट्रो का वीडियो वायरल है। BMRCL ने सिक्योरिटी सुपरवाइजर को टर्मिनेट कर दिया है। - Dainik Bhaskar

सोशल मीडिया पर बेगलुरु मेट्रो का वीडियो वायरल है। BMRCL ने सिक्योरिटी सुपरवाइजर को टर्मिनेट कर दिया है।

बेंगलुरु मेट्रो स्टेशन का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल है। राजाजीनगर मेट्रो स्टेशन मेट्रो स्टाफ ने एक किसान को इसलिए रोक दिया गया क्योंकि उसके कपड़े गंदे थे।

घटना का जो वीडियो सामने आया है उसमें नजर आ रहा है एक वृद्ध किसान बैग चैकिंग पाइंट पर खड़ा हुआ है। उसके सिर पर एक सामान का बोरा रखा हुआ है। वीडियो में एक व्यक्ति की आवाज सुनाई दे रही है जो किसान को मेट्रो में एंट्री से रोकने का विरोध कर रहा है।

कार्तिक सी ऐरानी नाम के व्यक्ति मेट्रो सिक्योरिटी सुपरवाइजर से किसान को रोके जाने कारण पूछ रहा है। वो अधिकारियों से कहता है कि मेट्रो में सफर करने के लिए क्या कोई ड्रेस कोड है।

कार्तिक आगे कहता है कि, ‘वह व्यक्ति एक किसान है और उसके पास मेट्रो से यात्रा करने के लिए आवश्यक टिकट है। उसके बैग में कोई भी ऐसी वस्तु नहीं है जिसे मेट्रो में लाना प्रतिबंधित है। उसके पास केवल कपड़े हैं। किस आधार पर उसे प्रवेश से रोका जा रहा है?”

ऐरानी अधिकारियों से आगे कहता है कि मुझे ऐसा नियम दिखाएं जो मेट्रो के यात्रियों के लिए एक ड्रेस कोड अनिवार्य करता है। क्या मेट्रो में VIP लोगों के लिए रोका जाता है? यह पब्लिक ट्रांसपोर्ट है।

किसान को मेट्रो में एंट्री नहीं दी गई थी। अन्य लोगों ने किसान के आवाज उठाई और अधिकारियों से सवाल किया।

किसान को मेट्रो में एंट्री नहीं दी गई थी। अन्य लोगों ने किसान के आवाज उठाई और अधिकारियों से सवाल किया।

अन्य यात्रियों ने भी कार्तिक का समर्थन किया
इस दौरान कार्तिक के सपोर्ट में और भी लोग आ जाते हैं। उनमें शामिल एक व्यक्ति कहता है कि केवल प्रतिबंधित सामान मेट्रो में जाने पर किसी को रोका जा सकता है।वह आदमी गांव से आने वाला एक किसान है। उसे एंट्री से इनकार करना तभी सही है जब उसके पास ऐसा सामान हो जिसे मेट्रो में लाने पर रोक है। अगर किसान के पास ऐसी कोई चीज है तो हम आपके फैसले से सहमत होंगे। मेट्रो अधिकारियों का ऐसा व्यवहार घोर भेदभाव वाला है।

BMRCL ने मेट्रो अधिकारी को सस्पेंड किया
घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल है। BMRCL ने एक्स पर पोस्ट करते हुए कहा कि नम्मा मेट्रो पब्लिक ट्रांसपोर्ट है। राजाजीनगर मेट्रो स्टेशन की घटना की पुष्टि हो गई है। वहां के सिक्योरिटी सुपरवाइजर को टर्मिनेट कर दिया गया है। यात्री को हुई असुविधा के लिए BMRCL को खेद है। मेट्रो सेवा सभी के लिए एक समान है।

यह खबर भी पढ़ें….

दिल्ली मेट्रो के गेट में साड़ी फंसी, महिला की मौत: प्लेटफॉर्म पर घिसटती चली गई, फिर ट्रैक पर गिरी; इलाज के दौरान दम तोड़ा

दिल्ली मेट्रो के गेट में साड़ी फंसने से 35 साल की महिला की मौत हो गई। दिल्ली के इंद्रलोक मेट्रो स्टेशन पर मेट्रो के दरवाजे में रीना नाम की महिला की साड़ी फंस गई थी। इसके बाद गेट बंद हो गए और मेट्रो चलने लगी। चलती मेट्रो के साथ रीना दूर तक घिसटती चली गई। इसके बाद वह ट्रैक पर गिर गई। महिला को सफदरजंग अस्पताल में भर्ती कराया गया था। शनिवार (16 दिसंबर) को इलाज के दौरान रीना की मौत हो गई। पूरी खबर पढ़ें

खबरें और भी हैं…