नालागढ़ कोर्ट फायरिंग का पाकिस्तान कनेक्शन: ISI ने बंबीहा गैंग के शूटर शन्नी उर्फ लेफ्टी को छुड़ाने की रची थी साजिश, 6 गैंगस्टर गिरफ्तार

नालागढ़3 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
नालागढ़ कोर्ट में फायरिंग करने वाले गैंगस्टर दिल्ली पुलिस ने किए गिरफ्तार। - Dainik Bhaskar

नालागढ़ कोर्ट में फायरिंग करने वाले गैंगस्टर दिल्ली पुलिस ने किए गिरफ्तार।

हिमाचल के सोलन स्थित नालागढ़ कोर्ट में हुई फायरिंग का कनेक्शन पाकिस्तान से जुड़ा है। पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी ISI ने बंबीहा गैंग के शूटर सन्नी उर्फ लेफ्टी को छुड़ाने के लिए साजिश रची थी। दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल कांउटर इंटेलीजेंस यूनिट ने आतंकी और गैंगस्टर कनेक्शन से जुड़ी बड़ी साजिश का खुलासा किया है। हिमाचल में गड़बड़ी फैलाने का पूरा प्लान सरहद पार बैठे आतंकी रिंदा के कहने पर तैयार किया गया था, जो नाकाम हो गया।

29 अगस्त 2022 को नालागढ़ कोर्ट से विक्की मिड्‌डूखेड़ा हत्याकांड के मुख्य शूटर सन्नी उर्फ लेफ्टी को कोर्ट परिसर के बाहर से छुड़ाने के लिए बंबीहा गैंग के गैंगस्टरों ने फायरिंग की थी। पुलिस की सक्रियता के चलते आरोपी सन्नी को छुड़ाने में कामयाब नहीं हो पाए थे।

पाकिस्तान और यूरोप में बैठकर रची गई इस साजिश को अंजाम देने वाले गुर्गे CCTV कैमरे में में कैद हो गए थे। सन्नी को छुड़ाने के लिए 4 शूटर आए थे। जिनमें से 2 बाइक पर सवार होकर कोर्ट परिसर के बाहर पहुंचे थे। उन्होंने पहले वहां रेकी की थी। फिर शूट आउट को अंजाम दिया और वहां से फरार हो गए थे।

4 शूटर ने दिया था वारदात को अंजाम

दिल्ली पुलिस ने पंजाब, हरियाणा समेत कई राज्यों में सक्रिय चल रहे बंबीहा गैंग के 6 शूटरों को गिरफ्तार किया है। इनमें 4 शूटर नालागढ़ कोर्ट परिसर में फायरिंग की घटना को अंजाम देने वाले होने का दिल्ली पुलिस ने दावा किया है। दिल्ली पुलिस काउंटर इंटेलिजेंस के स्पेशल सेल के ACP राहुल विक्रम की अगुवाई टीम ने आरोपियों को पकड़ने में कामयाबी हासिल की है। इस संबंध में स्पेशल सेल के कमिश्नर ऑफ पुलिस HGS धालीवाल ने जानकारी दी।

दिल्ली, चंडीगढ़ और पंजाब से पकड़े

जानकारी के मुताबिक यूरोप में बैठे गैंगस्टर लकी पटियाल के इशारे पर इस काम को अंजाम देने के लिए हैंड ग्रेनेड और दूसरे हथियार सप्लाई किए गए। नालागढ़ कोर्ट परिसर में फायरिंग मामले से जुड़े 4 गैंगस्टर के साथ ही अन्य 2 को भी गिरफ्तार किया गया है। ये सभी बंबीहा गैंग से जुड़े हैं। आरोपियों की पहचान वकील, गगनदीप, प्रगट, गुर्जन्त, अजय उर्फ मेंटल और विक्रम उर्फ विक्की के रूप में हुई। पकड़े गए गैंगस्टर पंजाब और हरियाणा के रहने वाले हैं। जिन्हें दिल्ली, चंडीगढ़ और पंजाब से गिरफ्तार किया गया।

आरोपियों से एडवांस हथियार बरामद

पुलिस को आरोपियों के पास से एडवांस हथियार, 5 मैग्जीन, 20 जिंदा कारतूस व एक बाइक बरामद हुई। आरोपी गगनदीप के पास से ग्रेनेड, एक कार व मोबाइल फोन बरामद हुए। दिल्ली पुलिस की पूछताछ में पकड़े गए आरोपियों ने नालागढ़ कोर्ट परिसर में फायरिंग करने की घटना को अंजाम देना कबूल किया। उन्होंने बताया कि पंजाब के यूथ अकाली नेता व नालागढ़ में सिमरन मर्डर मामले के शूटर अजय उर्फ सन्नी लेफ्टी को पुलिस कस्टडी से छुड़वाने के लिए उन्होंने फायरिंग की घटना को अंजाम दिया था, लेकिन वह नाकाम हो गए।

बड़ी घटना को अंजाम देने से पहले दबोचे

HGS धालीवाल का कहना है कि पहले चार आरोपियों द्वारा नालागढ़ कोर्ट में फायरिंग कराकर शूटर अजय उर्फ सन्नी लेफ्टी को छुड़वाना और पंजाब व हरियाणा के बदमाशों का एक साथ आना किसी बड़े आपराधिक गठबंधन को प्रकट करता है जो कि आने वाले समय में किसी भी बड़ी घटना को अंजाम दे सकते थे। दिल्ली पुलिस ने अपराधियों को समय रहते पकड़ने में सफलता हासिल की। पुलिस ने बीते दिनों अजय उर्फ मैंटल निवासी पंचकूला व गगनदीप उर्फ राहुल फिरोजपुर को गिरफ्तार किया था।

गगनदीप का पाकिस्तान कनेक्शन

दिल्ली पुलिस की पूछताछ में गैंगस्टर-टेरर नेक्सस का खुलासा हुआ। बंबीहा के एनकाउंटर के बाद इस गैंग की कमान गौरव उर्फ लकी पटियाल संभालने लगा। वह इन दिनों आर्मेनिया से गैंग को चलाता है। धनास, चंडीगढ़ का रहने वाला गौरव उर्फ लकी पटियाल बंबीहा गैंग चलाने वालों में पंजाब का बड़ा गैंगस्टर है। जो पहले कत्ल, कत्ल की कोशिश और फिरौती जैसे मामले में जेल में बंद था और फिर आर्मेनिया भाग गया था।

लकी पटियाल द्वारा चलाए जा रहे गैंग को गगनदीप शर्मा द्वारा नियंत्रित किया जा रहा था। जो कि नामी गैंगस्टर दिलप्रीत बाबा का पुराना सहयोगी है। पकड़े गए सभी चार शूटर लकी पटियाल से फोन पर बात करते थे। जबकि लकी आतंकी रिंदा के संपर्क में था। दलप्रीत बाबा आतंकी रिंदा के संपर्क में था. दलप्रीत बाबा आतंकी रिंदा का बहुत करीबी है, जो इस वक्त नांदेड जेल में बंद है। बाबा सीधे तौर पर आतंकी रिंदा से जुड़ा था।

कौन है हरविंदर सिंह रिंदा?
आतंकी हरविंदर सिंह रिंदा पंजाब के तरन तारन का रहने वाला है। वह महाराष्ट्र के नांदेड साहेब शिफ्ट हो गया था। हरविंदर सिंह अब पाकिस्तान में छिपा है। जांच में पता चला था कि वह फेक पासपोर्ट के जरिए नेपाल होते हुए पाकिस्तान पहुंचा था। रिंदा को सितंबर 2011 में तरन तारन में एक युवक की मौत के मामले में उम्रकैद की सजा हुई थी। उसने 2014 में पटियाला सेंट्रल जेल के अधिकारियों पर हमला किया था। इतना ही नहीं अप्रैल 2016 में चंडीगढ़ में पंजाब यूनिवर्सिटी में स्टूडेंट ऑर्गेनाइजेशन ऑफ इंडिया के अध्यक्ष पर भी रिंदा ने गोलियां चलाई थीं। अप्रैल 2017 में रिंदा पर होशियारपुर सरपंच की हत्या का भी आरोप लगा था।

पहले भी आतंकी वारदातों में आ चुका है रिंदा का नाम
इससे पहले रिंदा का नाम खालिस्तानी समर्थक जगजीत सिंह ने भी लिया था। जगजीत सिंह को जून 2021 में 48 पिस्टल, 200 कारतूस के साथ पंजाब पुलिस ने गिरफ्तार किया था। रिंदा पर पंजाब और महाराष्ट्र में कई आपराधिक मामले दर्ज हैं। इसके अलावा रिंदा का नाम पिछले साल CIA की बिल्डिंग पर आतंकी हमले में भी सामने आया था। पिछले साल दिसंबर में लुधियाना कोर्ट में हुए हमले में भी रिंदा का हाथ था।

खबरें और भी हैं…