दिल्ली वक्फ बोर्ड भर्ती मामले में 3 आरोपी गिरफ्तार: कोर्ट ने 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा; तीनों AAP विधायक अमानतुल्ला के करीबी

  • Hindi News
  • National
  • 3 Arrested By In Money Laundering Case| Delhi AAP MLA Amanatullah Khan ED Raid

नई दिल्ली6 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
अमानतुल्ला खान दिल्ली की ओखला विधानसभा से विधायक हैं। उन पर दिल्ली वक्फ बोर्ड में अवैध नियुक्तियां करने का आरोप है। - Dainik Bhaskar

अमानतुल्ला खान दिल्ली की ओखला विधानसभा से विधायक हैं। उन पर दिल्ली वक्फ बोर्ड में अवैध नियुक्तियां करने का आरोप है।

दिल्ली वफ्फ बोर्ड मामला से जुड़े भ्रष्ट्राचार मामले में जांच एजेंसी ईडी ने तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार आरोपियों के नाम जिशान हैदर, जावेद इमाम, दाऊद नसीर हैं। तीनों को दिल्ली की एक अदालत ने 14 दिनों की हिरासत में भेज दिया है, जहां एजेंसी इनसे पूछताछ करेगी। ये सभी आम आदमी पार्टी से विधायक अमानतुल्लाह खान के करीबी बताए जा रहे हैं। ED मामले में अमानतुल्लाह खान के खिलाफ भी केस दर्ज कर चुकी है।

10 अक्टूबर को ED ने पांच ठिकानो पर छापेमारी की थी
इससे पहले जांच एजेंसी ने 10 अक्टूबर को दिल्ली के पांच ठिकानों पर सर्च ऑपरेशन चलाया था। ED ने अमानतुल्ला खान के घर पर भी छापा मारा था। ED ने ये कार्रवाई दिल्ली एंटी-करप्शन ब्यूरो (ACB) की तरफ से दाखिल दो FIR के तहत की थी। ये FIR दिल्ली वक्फ बोर्ड में नौकरियों में अनियमितताओं से जुड़ी है। अमानतुल्ला खान वक्फ बोर्ड में चेयरमैन हैं।

अमानतुल्ला खान दिल्ली की ओखला विधानसभा से विधायक हैं। उनके घर पर 10 अक्टूबर को ED ने रेड की थी।

अमानतुल्ला खान दिल्ली की ओखला विधानसभा से विधायक हैं। उनके घर पर 10 अक्टूबर को ED ने रेड की थी।

AAP नेता पर 32 लोगों की अवैध नियुक्ति करने का आरोप
अमानतुल्ला खान पर आरोप है कि दिल्ली वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष के रूप में उन्होंने 32 लोगों को अवैध रूप से भर्ती किया। इसके साथ ही उन्होंने अवैध रूप से दिल्ली वक्फ बोर्ड की कई संपत्तियों को किराए पर दिया है। ये भी आरोप लगाया गया है कि उन्होंने दिल्ली वक्फ बोर्ड के धन का दुरुपयोग किया है। दिल्ली वक्फ बोर्ड के तत्कालीन सीईओ ने इस तरह की अवैध भर्ती के खिलाफ बयान जारी किया था।

अमानतुल्लाह के करीबियों के ठिकानों पर कैश मिला
इस मामल में एंटी करप्शन ब्यूरो (ACB) ने सितंबर 2022 में अमानतुल्लाह से पूछताछ की। इसी के आधार पर ACB ने चार जगहों पर छापे मारे। करीब 24 लाख रुपए कैश बरामद किया गया। इसके अलावा, दो अवैध और बिना लाइसेंस की पिस्टल मिली थीं। कारतूस और गोला-बारूद भी बरामद किया था। बाद में अमानतुल्लाह को गिरफ्तार कर किया गया था। उनके खिलाफ सुबूतों और आपत्तिजनक सामग्री के आधार पर गिरफ्तारी की गई थी। बाद में उन्हें उन्हें 28 दिसंबर 2022 को जमानत पर रिहा कर दिया गया।

AAP के तीन बड़े नेता गिरफ्तार
इस वक्त आम आदमी पार्टी के तीन बड़े नेता दो अलग मामलों में कस्टडी और जेल में हैं। ये नेता हैं- सत्येंद्र जैन, जो आय से अधिक संपत्ति और मनी लॉन्ड्रिंग के केस में तिहाड़ जेल में बंद हैं, मनीष सिसोदिया, जो शराब नीति घोटाले में CBI की कस्टडी में हैं और संजय सिंह, जो शराब नीति घोटाले में ED की कस्टडी में हैं।

सत्येंद्र जैन: गिरफ्तारी- 31 मई 2022
31 मई 2022 को दिल्ली के पूर्व स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन को ED ने गिरफ्तार किया था। ये गिरफ्तारी 24 अगस्त 2017 को CBI की तरफ से दर्ज FIR को आधार बनाकर की गई थी। आरोप था कि जैन ने कथित तौर पर दिल्ली में कई शेल कंपनियां बनाई या खरीदी थीं। उन्होंने कोलकाता के तीन हवाला ऑपरेटर्स से 54 शेल कंपनियों के जरिए 16.39 करोड़ रुपए का काला धन भी ट्रांसफर किया।

उन्हें तिहाड़ जेल भेज दिया गया। सत्येंद्र जैन 8 अक्टूबर तक स्वास्थ्य संबंधी दिक्कतों के चलते अंतरिम जमानत पर हैं। 9 अक्टूबर को उनकी जमानत याचिका पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई होनी है।

सत्येंद्र जैन की ये तस्वीर इस साल मई की है। दिल्ली पुलिस उन्हें तिहाड़ जेल से सफदरजंग अस्पताल लेकर पहुंची थी।

सत्येंद्र जैन की ये तस्वीर इस साल मई की है। दिल्ली पुलिस उन्हें तिहाड़ जेल से सफदरजंग अस्पताल लेकर पहुंची थी।

मनीष सिसोदिया: गिरफ्तारी- 26 फरवरी 2023
दिल्ली के पूर्व डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया को ED ने 10 मार्च को गिरफ्तार किया था। इसके पहले 26 फरवरी को CBI ने गिरफ्तार किया था। दोनों ही एजेंसियों ने दिल्ली शराब घोटाले के मामले में सिसोदिया को आरोपी बनाया है। सिसोदिया के खिलाफ CBI ने भ्रष्टाचार निरोधी कानून और ED ने मनी लॉन्ड्रिंग कानून के तहत आरोपी बनाया है।

पूछताछ के लिए जाते वक्त मनीष सिसोदिया ने कहा- हम पुलिस, CBI, ED या जेल किसी से नहीं डरते, लेकिन भाजपा के लोग सिसोदिया और केजरीवाल से डरते हैं।

पूछताछ के लिए जाते वक्त मनीष सिसोदिया ने कहा- हम पुलिस, CBI, ED या जेल किसी से नहीं डरते, लेकिन भाजपा के लोग सिसोदिया और केजरीवाल से डरते हैं।

संजय सिंह: गिरफ्तारी- 4 अक्टूबर 2023
आबकारी नीति केस की चार्जशीट में संजय सिंह का भी नाम है। उन्हें मनी लॉन्ड्रिंग के आरोप में 4 अक्टूबर को गिरफ्तार किया गया था। ED ने इसी साल जनवरी में अपनी चार्जशीट में संजय सिंह का नाम जोड़ा था। दरअसल, शराब नीति घोटाले में आरोपी से सरकारी गवाह बने दिनेश अरोड़ा ने कहा है कि उसके रेस्तरां में संजय सिंह और दिल्ली के बार-रेस्तरां मालिकों के बीच बैठक हुई थी।

गिरफ्तारी के बाद संजय सिंह ने अपने घर के बाहर से हाथ हिलाकर समर्थकों का अभिवादन किया। कार में बैठकर भी वह हाथ हिलाते हुए निकले।

गिरफ्तारी के बाद संजय सिंह ने अपने घर के बाहर से हाथ हिलाकर समर्थकों का अभिवादन किया। कार में बैठकर भी वह हाथ हिलाते हुए निकले।

ये खबरें भी पढ़ें…

मनीष सिसोदिया की जमानत याचिका पर सुनवाई के दौरान सुप्रीम कोर्ट ने ED से कहा- सबूतों की कड़ी एक-दूसरे से नहीं जुड़ रही है

सुप्रीम कोर्ट में दिल्ली के पूर्व डिप्टी CM मनीष सिसोदिया की जमानत याचिका पर 5 अक्टूबर को सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई हुई। जस्टिस संजीव खन्ना और जस्टिस एसवीएन भट्टी की बेंच ने ED से पूछा- सबूतों की कड़ी एक-दूसरे से नहीं जुड़ रही हैं। आपकी दलीलें अनुमान पर आधारित हैं, जबकि यह सबूतों पर आधारित होनी चाहिए। सुनवाई के लिए अगली तारीख 12 अक्टूबर तय की गई है। पूरी खबर यहां पढ़ें…

सत्येंद्र जैन को SC से अंतरिम जमानत मिली:कोर्ट से स्वास्थ्य कारणों का हवाला दिया, मई में मिली थी 42 दिन की बेल

आम आदमी पार्टी (AAP) के नेता सत्येंद्र जैन की अंतरिम जमानत याचिका पर 24 जुलाई सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई हुई। सुप्रीम कोर्ट ने स्वास्थ्य कारणों का हवाला देते हुए जैन को अंतरिम जमानत दे दी। जैन के वकील एएम सिंघवी ने कोर्ट से कहा था कि 3 अस्पतालों ने जैन को सर्जरी की सलाह दी है, इसलिए उन्हें जमानत मिलनी चाहिए। पूरी खबर यहां पढ़ें…

खबरें और भी हैं…