जीएम के दौरे से पहले ही बैतूल-छिंदवाड़ा पैसेंजर में लगी आग, दो बोगियां जलकर राख, सुरक्षा पर सवाल – Rail Hunt

NAGPUR : सेंट्रल रेलवे के नागपुर सीआर डिवीजन के बैतूल रेलवे स्टेशन में बुधवार 23 नवंबर को बैतूल-छिंदवाड़ा पैसेंजर की बोगियों में लगी आग से दो बोगियां पूरी तरह जलकर राख हो गयी. तीसरी बोगी को भी आग से नुकसान पहुंचा है. घटना शाम लगभग चार बजे तब घटी जब छिंदवाड़ा के लिए ट्रेन को रवाना करने से पूर्व प्लेटफॉर्म पर लाया जा रहा था.

मलकापुर आउटर पर माचना नदी के पुल के पार अचानक ट्रेन की बोगियों में चिंगारी के साथ आग लग गयी. रेलकर्मियों ने रैक से दो बोगियों को अलग कर शेष बोगियों को जलने से बचाया. यह सब उस समय हुआ है जब 25 नवंबर को जीएम का बैतूल में दौरा होने वाला है. इसे लेकर अधिकारी परेशान हैं.

घटना की सूचना मिलते ही फायर ब्रिगेड की गाड़ी मौके पर पहुंच गयी थी लेकिन जल रही बोगियों तक वह नहीं पहुंच सकी. खेत के रास्ते पाइप बिठाकर बोगियों में लगी आग बुझाने का प्रयास किया गया. यह ट्रेन यार्ड से निकलकर जा रही थी. रेलवे अधिकारी असामाजिक तत्वों की हरकत से इंकार नहीं कर रहे हैं हालांकि उनका कहना है कि जांच के बाद ही स्थिति स्पष्ट हो सकेगी. यह ट्रेन 4 बजे छिंदवाड़ा के लिए रवाना होती है और वहां से इंदौर के लिए रवाना होती है. ट्रेन को कैंसिल कर दिया गया है.

बैतूल में आगामी 25 नवंबर को जीएम का दौरा है, इस बीच हुई इस घटना से रेल प्रबंधन के हाथ पैर फूल गए हैं. जानकार आगजनी को सुरक्षा में चूक मान रहे है. पूरे मामले में आरपीएफ और स्टेशन मास्टर ने भी कुछ भी बताने से इंकार कर दिया.

#Betul-Chhindwara passenger
#Betul #CentralRailway #Nagpur #IndianRailway #FireInTrain