अननेचुरल सेक्स का दबाव बनाया तो दोस्त की हत्या की: जेब से ₹18 हजार निकाले और नया फोन लिया; पुलिस ने इसी फोन के जरिए पकड़ा

नई दल्ली8 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

दिल्ली के खोया मंडी इलाके के डीडीए पार्क के पास एक 20 साल के युवक ने अपने दोस्त की हत्या कर दी। युवक का आरोप है कि उसका दोस्त उस पर अननेचुरल सेक्स करने का दबाव बना रहा था। जब DDA पार्क के पास सुनसान जगह पर इसके लिए दबाव डाला तो उसने गुस्से में आकर दोस्त की हत्या कर दी।

इसके बाद उसने पत्थर से अपने दोस्त का चेहरा कुचल दिया और मृतक की जेब से रुपए और फोन लेकर फरार हो गया। आरोपी की पहचान राजेश के तौर पर हुई है, जबकि मृतक का नाम प्रमोद कुमार शुक्ला बताया जा रहा है। हत्या की वारदात 17 जनवरी को हुई थी, जिसके बारे में पुलिस को 19 जनवरी को पता चला। पुलिस ने एक हफ्ते तक गहरी छानबीन करके राजेश को पटना से गिरफ्तार किया।

दिल्ली नार्थ के डीसीपी मनोज कुमार मीणा ने 29 जनवरी को बताया कि कश्मीरी गेट पुलिस स्टेशन को 19 जनवरी को घटना की जानकारी मिली थी।

दिल्ली नार्थ के डीसीपी मनोज कुमार मीणा ने 29 जनवरी को बताया कि कश्मीरी गेट पुलिस स्टेशन को 19 जनवरी को घटना की जानकारी मिली थी।

पढ़िए पूरा मामला…

दोस्त की हत्या कर अमृतसर भाग गया राजेश
17 जनवरी को राजेश ने प्रमोद की हत्या करने के बाद उसकी जेब से 18,500 रुपए और उसका कीपैड मोबाइल निकाला। उसने मोबाइल पुरानी दिल्ली रेलवे स्टेशन पर 400 रुपए में बेच दिया। इसके बाद ट्रेन में बैठकर पंजाब के अमृतसर चला गया। अमृतसर पहुंचने के बाद उसने प्रमोद के पैसों से 10,000 रुपए में एक मोबाइल फोन खरीदा।

19 जनवरी को पुलिस को घटना की जानकारी मिली। दिल्ली के डीसीपी मनोज कुमार मीणा ने बताया कि कश्मीरी गेट पुलिस स्टेशन को जानकारी मिली कि डीडीए पार्क, मोरी गेट में सुनसान जगह पर एक शव पड़ा है और उसका चेहरा कुचला हुआ है।

पुलिस ने बताया कि शव के मुंह पर खून लगा हुआ था और उसकी आंख के ऊपर चोट का निशान था। वहीं, शरीर के चारों ओर खून बिखरा हुआ था। पुलिस ने IPC की धारा 302 के तहत मामला दर्ज कर अपराधी का पता लगाने के लिए इन्वेस्टिगेशन शुरू की।

आरोपी को पकड़ने के लिए 50 से ज्यादा कैमरों के रिकॉर्ड्स चेक किए
इन्वेस्टिगेशन के दौरान पुलिस ने सबसे पहले घटनास्थल के पास 50 से ज्यादा CCTV कैमरों के रिकॉर्ड देखे, लेकिन यहां से कोई सुराग नहीं मिला। इसके बाद पुलिस ने प्रमोद के मोबाइल फोन का IMEI नंबर निकाला, जिससे उन्हें एक मोबाइल नंबर मिला, जो कभी-कभार इस्तेमाल किया जाता था। जांच में पता चला कि यह नंबर बिहार के मधेपुरा के रहने वाले राजेश से जुड़ा हुआ था।

इस दौरान एक व्यक्ति भी सामने आया, जिसने बताया कि प्रमोद को आखिरी बार राजेश के साथ देखा गया था। इसके बाद पुलिस को पता चला कि प्रमोद और राजेश दोस्त थे और दिल्ली के मोरी गेट पर खोया मंडी के पास स्थित रैन बसेरा में एक साथ रहते थे।

टेक्निकल सर्विलांस में राजेश की लोकेशन पटना की मिली
पुलिस ने टेक्निकल सर्विलांस की मदद से राजेश के मोबाइल नंबर का पता लगाया। इस नंबर की लोकेशन ट्रेस की गई तो पटना का लोकेशन आया। पुलिस ने 26 जनवरी को राकेश को पटना से पकड़ लिया गया। इसके बाद उसे कश्मीरी गेट थाने लाकर पूछताछ की गई।

पूछताछ के दौरान, राजेश ने कबूल किया कि प्रमोद उसका दोस्त था और वह उस पर अननेचुरल सेक्स बनाने का दबाव डालता था। राजेश ने बताया कि 17 जनवरी को वह प्रमोद के साथ डीडीए पार्क में एक सुनसान जगह पर बीयर पी रहा था। यहां प्रमोद ने फिर से उस पर दबाव डाला। यहां दोनों के बीच झगड़ा हुआ और राजेश ने प्रमोद की हत्या कर दी।

ये खबर भी पढ़ें…

दिल्ली में चाकू की नोक पर नाबालिग का शोषण:दोस्तों ने जूते चटवाए, फिर प्राइवेट पार्ट टच करवाया; इंस्टाग्राम पर अपलोड किया वीडियो

दिल्ली के हौज खास में 14 साल के एक लड़के का उसके ही तीन दोस्तों ने शोषण किया। आरोपियों ने पहले तो चाकू की नोक पर नाबालिग से अपने जूते चटवाए। फिर प्राइवेट पार्ट मुंह से टच करवाया।

तीनों आरोपियों ने इस घटना का वीडियो भी रिकॉर्ड किया और उसे इंस्टाग्राम पर अपलोड किया। आरोपियों की उम्र 12 से 14 साल के बीच है। पूरी खबर पढ़ें…

नाबालिगों ने सेक्शुअल हैरेसमेंट करने वाले युवक को मार डाला:पहचान छुपाने को पत्थर से चेहरा कुचला, शव में आग लगाई

दिल्ली में एक नाबालिग ने 21 दिसंबर को अपने दो नाबालिग दोस्तों के साथ मिलकर युवक की खुखरी (चाकू) से हत्या कर दी। शव की पहचान न हो, इसलिए आरोपियों ने चेहरा पत्थर से कुचल दिया। फिर शव को आग लगा दी।

पुलिस ने वारदात के दो दिन बाद (23 दिसंबर को) तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ में मुख्य आरोपी ने बताया- शख्स उसका सेक्शुअल हैरेसमेंट करता था, इसीलिए मैंने दोस्तों के साथ मिलकर उसे मार डाला। पूरी खबर पढ़ें…

खबरें और भी हैं…